Welcome to Kanya Mahavidyalaya
 
 

HINDI DEPARTMENT



20-09-2022 को प्रकाशित 'नया-सृजन'

20-09-2022 को प्रकाशित 'नया-सृजन'

29-09-2022 को

29-09-2022 को प्रकाशित हस्‍तलिखित पत्रिका ब

असमिया, बांग्‍ला, इतिहास और दर्शन विभा

असमिया, बांग्‍ला, इतिहास और दर्शन विभा

पुराने तथा नये विद्यार्थियों के साथ अ

प्राक्तन विद्यार्थी ध्रितिस्मिता दा

संचालन करते हुए डॉ. नवकांत शर्मा

विभागीय पत्रिका ‘नया सृजन’ का विमोचन

भाषणरत अध्यरक्ष डॉ. सत्य‍जित कलिता

स्वागत ग्रहण करते हुए विभागाध्यक्ष ड

दिप प्रज्वलन करते हुए विभागाध्यक्ष ड

दिप प्रज्वलन करते हुए अतिथि अध्‍यापक

स्वागत ग्रहण करते हुए अध्यक्ष डॉ. सत्य

दिप प्रज्वलन करते हुए अध्यक्ष महोदय (ड

छठे छ:माही की मौखिक परीक्षा के बाद प्र

छठे छ:माही की मौखिक परीक्षा सफलतापूर्वक समाप्त करने के बाद प्राधानाचार्य म

छठे छ:माही की मौखिक परीक्षा के बाद प्र

छठे छ:माही की मौखिक परीक्षा सफलतापूर्वक समाप्त करने के बाद प्राधानाचार्य म

डॉ. भूपेन हाजारिका का जन्‍म दिवस पालन

डॉ. भूपेन हाजारिका को जन्‍म दिवस के अवसर पर उनके गाने गाकर शुभकामनाएं दी गई।

डॉ. भूपेन हाजारिका का जन्‍म दिवस पालन

डॉ. भूपेन हाजारिका को जन्‍म दिवस के अवसर पर उनके गाने गाकर शुभकामनाएं दी गई।

डॉ. भूपेन हाजारिका का जन्‍म दिवस पालन

डॉ. भूपेन हाजारिका को जन्‍म दिवस के अवसर पर उनके गाने गाकर शुभकामनाएं दी गई।

शिक्षक दिवस के अवसर पर विद्यार्थियों

शिक्षक दिवस के अवसर पर विद्यार्थियों के साथ अध्‍यापकगण चित्र3

शिक्षक दिवस के अवसर पर विद्यार्थियों

शिक्षक दिवस के अवसर पर विद्यार्थियों के साथ विभाग केअध्‍यापकगण

शिक्षक दिवस के अवसर पर विद्यार्थियों

शिक्षक दिवस के अवसर पर विद्यार्थियों के साथ विभाग के अध्‍यापकगण

भावभीनी श्रद्धांजलि करते हुए अतिथि अ

आदरणीय अथिति अध्‍यापक प्रो. रफिकुूल हक सर सम्‍मानीय डॉ. सर्वपल्‍ली राधाकृष

Hindi Divas

Hindi Divas



Welcome To  HINDI 
DEPARTMENT



Profile


हिंदी विभाग एक नजर में

स्‍थापना तथा संकाय सदस्‍य

असम तथा पूर्वोत्‍तर भारत के अग्रणीय नारी शिक्षानुष्‍ठान के रूप में कन्‍या महाविद्यलय का नाम पहली पंक्ति में है। इस महाविद्यालय का एक महत्‍वपूर्ण अंग है हिंदी विभाग। सन 1989 में हिंदी विभाग की शुरुआत हुई और अब्‍दुल हन्‍नान अहमद ने इस विभाग के संस्थापक संकाय सदस्य के रूप में सन 2006 में कार्यभार ग्रहण किया और उन्होंने अपने सबल नेतृत्‍व से विभाग के लिए महत्‍वपूर्ण योगदान दिया। इसके बाद डॉ. जाकिर हुसैन और डॉ. नवकांत शर्मा सहायक अध्‍यापक के रूप में सन 2013 में कार्यभार ग्रहण कियें। 10 नवंबर, 2020 को अब्‍दुल हन्‍नान अहमद के देहावसान के बाद संप्रति डॉ. जाकिर हुसैन ने विभाग का कार्यभार ग्रहण किया।

विभाग का उद्देश्‍य

• हिंदी पढ़ने की इच्छुक विद्यार्थियों को उच्च शिक्षा का अवसर प्रदान कर उनकी बौद्धिक तथा सर्वांगीन विकास तथा विद्यार्थियों में हिंदी पढ़ने की रूचि उत्पौन्न करना है।
• हिंदी पठन-पाठन के माध्यम से रोजगारोन्मुख के अवसरों के क्षेत्र में मानव संसाधन विकसित करने तथा राष्ट्रीय एकता और अखंडता को मजबूत करने का प्रयास है।
• विभाग हिंदी को एक संपर्क भाषा, राजभाषा, राष्ट्रभाषा के साथ-साथ अंतर्राष्ट्रीय भाषा के रूप में महत्व देता है।
• संप्रति विभाग स्नातक स्तर पर ऑनर्स और सामान्य पाठ्यक्रम दोनों प्रदान करता है।
• आगामी समय में विभाग की ओर से अनुवाद डिप्लोमा और पीजीडीसी पाठ्यक्रम चालु करने की योजना है।
• विभाग की ओर से ‘नया सृजन’ नामक पत्रिका प्रकाशित कर विद्यार्थियों को सृजनात्मक कार्य के प्रति आकर्षित
करने का प्रयास जारी है।


Copyright © 2021 Kanya Mahavidyalaya
Powered By S.S. Technologies